GUNDA SHAYARI

लोगो ने मुझे बहुत कुछ सीखा दिया
मेरे हालातों ने मुझे गुंडा बना दिया |
logo ne mujhe bahut kuchh seekha diya
mere haalaaton ne mujhe gunda bana diya…

 

मेरा बुरा चाहने वालो
अपनी हरकतों से बाज आ जाओ
वरना तुम सब की शामत आई है ,
एक बात कान खोल के सुन लो
यमराज अपना बड़ा भाई है |
mera bura chaahane vaalo
apanee harakaton se baaj aa jao
varana tum sab kee shaamat aaee hai ,
ek baat kaan khol ke sun lo
yamaraaj apana bada bhaee hai..

 

बुरा नहीं हूँ में लोगों की नजर बुरी है ,
इसलिए ऐसे लोगो से बनायीं मेने दुरी है |
bura nahin hoon mein logon kee najar buree hai ,
isalie aise logo se banaayeen mene duree hai…

 

मेरे गुस्से की परीक्षा मत ले दोस्त ,
एक बार आ जाए तो फिर कांप ती है मौत |
mere gusse kee pareeksha mat le dost,
ek baar aa jae to phir kaamp tee hai maut..

 

चल माना हमने की तु शेर है
ज्यादा हवा मत कर ,
हम भी सवा शेर है
chal maana hamane kee tu sher hai ,
jyaada hava mat kar
ham bhee sava sher hai…

 

जो पहले हवा में उड़ते है
बाद में मांगते माफ़ी है ,
तुम्हे हाथ क्या लगाओ
तुम जेसो के लिए मेरा नाम ही खाफी है |
jo pahale hava mein udate hai
baad mein maangate maafee hai
tume haath kya lagao ,
tum jeso ke lie mera naam hee khaaphee hai…

 

पीठ पीछे वार करना से
कोई मर्द नहीं कहलाता है ,
असली मर्द वो है जो आँखों में आंखे डाल कर
दुश्मन के पसीने छूटा देता है |
peeth peechhe vaar karana se
koee mard nahin kahalaata hai ,
asalee mard vo hai jo aankhon
mein aankhe daal kar dushman
ke paseene chhoota deta hai…

 

gunda shayari

अगर मुझसे लोगे पंगा
तो कर दे दूंगा में दंगा ,
agar mujhase loge panga
to kar de doonga mein danga…

 

जो मुझसे करेंगे धोखा ,
उसका जीना कर दूंगा ओखा|
jo mujhase karenge dhokha ,
uska jeena kar doonga okha…

 

जिन तुफानो की देख कर लोग अन्दर छुप जाते है ,
वे तूफ़ान हम को देख कर झुक जाते है |
jin tuphaano kee dekh kar log andar chhup jaate ,
hai ve toofaan ham ko dekh kar jhuk jaate hai…

 

झुक के बात करने की आदत बना ले
काफी फायदे में रहोगे,
पक्षी चाहे कितना भी ऊँचा क्यों न उड़ ले
आना उसे निचे ही पड़ता है|

 

तेरा घमंड तो दो दिन की कहानी है ,
पर मेरी ये अकड़ तो खानदानी है|

 

जो हमारे दिल से उतर जाता है ,
समझ लो वो हमारे लिए हमेशा
के लिए मर जाता है|

 

खून में उबाल वो आज भी हमारा खानदानी है,
दुनिया हमारे नहीं हमारे तेवर की दीवानी है|