Dada Giri Shayari

रुक जाओ ज्यादा उड़ो मत
खींच के जमीन पर ला दूंगा.
अगर अपनी आयी पर आ गया
तो तुम्हारी औकात दिखा दूंगा |
ruk jao jyaada udo mat
kheench ke jameen par la doonga ,
agar apanee aayee par aa gaya to
tumhaaree aukaat dikha doonga…

 

 

सबके दिल में बस्ते है ,
दुश्मनो के लिए हमें किसाई कहते है ,
और प्यार से हमें सब भाई कहते है |
sabake dil mein baste hai ,
dushmano ke lie hamen kisaee kahate hai ,
aur pyaar se hamen sab bhaee kahate hai…

 

सिगरेट का नशा हो जा फिर
शराब का रहते है इनसे सदा दूर,
गिड़गिड़ाना हमें आता नहीं
इसलिए होते नहीं किसी के आगे मज़बूर |
cigarete ka nasha ho ja phir
sharaab ka rahate hai inse sada door ,
gidgidaana hamen aata nahin
isalyie hote nahin kisee ke aage mazaboor…

 

गदार लोगो को हम कभी भाऊ भी नहीं देते ,
देखने की बात तो दूर, उनको
हम अपने पास फड़फड़ाने भी नहीं देते |
gadaar logo ko ham kabhee bhaoo bhee nahin dete ,
dekhane kee baat to door, unako
hum apane paas phadaphadaane bhee nahin dete…

 

लोग तो भोंकते ही रहेंगे,
अगर बराबरी न कर सके
तो बदनाम करने लगेंगे |
log to bhonkate hee rahenge ,
agar baraabaree na kar sake
to badanaam karane lagenge…

 

हम बदले नहीं दोस्त
बस कुछ सुधार किये है,
कुश लोग ज़िन्दगी में आये
और कही हमने बाहर किये है |
ham badale nahin dost
bas kuchh sudhaar kiye hai,
kush log zindagee mein aaye
aur kahee hamane baahar kiye hai…

 

ज्यादा अकड़ मत ,
हम अकड़ भी हड्डियों
की तरह ही तोड़ते है|
jyaada akad mat ,
ham akad bhee haddiyon
kee tarah hee todate hai…

 

हमारे सामने ज्यादा दादागिरी मत दिखाओ,
हमसे सिख कर हमें ही मत सिखाओ |
hamaare saamane jyaada daadaagiree mat dikhao,
hamase sikh kar hamen hee mat sikhaoo…

 

DADAGIRI STATUS IN HINDI

बच्चो की तरह क्यों करते हो
थोड़ा मर्दों की तरह भी जिया करो,
मर्द होने का सबूत न देना पड़े
काम ही ऐसे किया करो |
bachcho kee tarah kyon karate ho
thoda mardon kee tarah bhee jiya karo,
mard hone ka saboot na dena pade
kaam hee aise kiya karo…

 

पीठ पीछे तो हमारे सभी बात करते है,
पर सामने आने पर सभी के मुंह
पर ताले लग जाते है |
peeth peechhe to hamaare sabhee baat karate hai,
par saamane aane par sabhee ke munh par
taale lag jaate hai…

 

कुश लोग बहुत अकड़ दिखाते है हमको,
कोई बात नहीं बच्चे है,
एक दिन अकल आ जाएँगी सबको |
Kush Loh Bahut Akad Dikhaate Hai Hamako,
Koee Baat Nahin Bache Hai, Ek Din Akaal Aa Jaengee Sabako…

 

हम दादागिरी करते नहीं सिखाते है,
वार कभी पीछे से नहीं करते ,
दुश्मन को सामने से धूल चटाते है |
ham daadaagiree karate nahin sikhaate hai ,
vaar kabhee peechhe se nahin karate
dushman ko saamane se dhool chataate hai…

 

लड़किया ज़रा हमसे दूर ही रह्यो,
हमको प्यार करना तो आता है,
पर धोखा कभी बर्दाश् नहीं करते
हमें सबक सीखना भी खूब आता है |
ladakiya zara hamase door hee rahyo,
hamako pyaar karana to aata hai,
par dhokha kabhee bardaash nahin karate
hamen sabak seekhana bhee khoob aata hai…

 

अपनी औकात मे रहना सीख ले
वरना जो हमसे टकराते है,
वो फिर अपने आपको श्मशान मे पाते है |
apanee aukaat me rahana seekh le
varana jo hamase takaraate hai,
vo phir apane aapako shmashaan me paate hai…

 

न लड़ते है, न लडाते है,
हमसे भूल कर भी पंगा मत लेना,
हम सब की बहुत बजाते है |
ɴᴀ ʟᴀᴅᴀᴛᴇ ʜᴀɪ, ɴᴀ ʟᴀᴅᴀᴀᴛᴇ ʜᴀɪ,
ʜᴀᴍᴀsᴇ ʙʜᴏᴏʟ ᴋᴀʀ ʙʜᴇᴇ ᴘᴀɴɢᴀ ᴍᴀᴛ ʟᴇɴᴀ,
ʜᴀᴍ sᴀʙ ᴋᴇᴇ ʙᴀʜᴜᴛ ʙᴀᴊᴀᴀᴛᴇ ʜᴀɪ…

 

DADA GIRI SHAYARI

चलते है हर किसी के साथ
यही सब तो हमें सिख्या है,
कोई डर नहीं हमें किसी का
मौत को जो दोस्त बनाए हैं |
ᴄʜᴀʟᴀᴛᴇ ʜᴀɪ ʜᴀʀ ᴋɪsᴇᴇ ᴋᴇ sᴀᴀᴛʜ
ʏᴀʜᴇᴇ sᴀʙ ᴛᴏ ʜᴀᴍᴇɴ sɪᴋʜʏᴀ ʜᴀɪ,
ᴋᴏᴇᴇ ᴅᴀʀ ɴᴀʜɪɴ ʜᴀᴍᴇɴ ᴋɪsᴇᴇ ᴋᴀ
ᴍᴀᴜᴛ ᴋᴏ ᴊᴏ ᴅᴏsᴛ ʙᴀɴᴀᴇ ʜᴀɪɴ.

 

रखते है मूंछें सदा चाड़ कर,
दुश्मन पर वार करते है सदा दहाड़ कर |
ʀᴀᴋʜᴀᴛᴇ ʜᴀɪ ᴍᴏᴏɴᴄʜʜᴇɴ sᴀᴅᴀ ᴄʜᴀᴀᴅ ᴋᴀʀ,
ᴅᴜsʜᴍᴀɴ ᴘᴀʀ ᴠᴀᴀʀ ᴋᴀʀᴀᴛᴇ ʜᴀɪ sᴀᴅᴀ ᴅᴀʜᴀᴀᴅ ᴋᴀʀ…

 

माँ कहती है बेटा तुम शांत रहा करो,
लेकिन माँ को क्या पता की कुश लोगो
के लिए Violent होना भी ज़रूरी है |
ᴍᴀᴀɴ ᴋᴀʜᴀᴛᴇᴇ ʜᴀɪ ʙᴇᴛᴀ ᴛᴜᴍ sʜᴀᴀɴᴛ ʀᴀʜᴀ ᴋᴀʀᴏ,
ʟᴇᴋɪɴ ᴍᴀᴀɴ ᴋᴏ ᴋʏᴀ ᴘᴀᴛᴀ ᴋᴇᴇ ᴋᴜsʜ ʟᴏɢᴏ
ᴋᴇ ʟɪᴇ ᴠɪᴏʟᴀɪɴᴛ ʜᴏɴᴀ ʙʜᴇᴇ ᴢᴀʀᴏᴏʀᴇᴇ ʜᴀɪ…

 

 

तुफानो को कह दो ज़रा रुक जाओ,
नहीं तो मै भी आंधी ला दूंगा,
अगर न रुके तो बता देता हु,
उनकी औकात दिखा दूंगा |
ᴛᴜᴘʜᴀᴀɴᴏ ᴋᴏ ᴋᴀʜ ᴅᴏ ᴢᴀʀᴀ ʀᴜᴋ ᴊᴀᴏ,
ɴᴀʜɪɴ ᴛᴏ ᴍᴀɪ ʙʜᴇᴇ ᴀᴀɴᴅʜᴇᴇ ʟᴀ ᴅᴏᴏɴɢᴀ,
ᴀɢᴀʀ ɴᴀ ʀᴜᴋᴇ ᴛᴏ ʙᴀᴛᴀ ᴅᴇᴛᴀ ʜᴜ,
unki  ᴀᴜᴋᴀᴀᴛ ᴅɪᴋʜᴀ ᴅᴏᴏɴɢᴀ…

 

लोगो का तो काम ही है पीठ पीछे भोकना ,
शेर और कुतो में एहि तो फर्क होता है |
logo ka to kaam hee hai peeth peechhe bhokana ,
sher aur kuto mein ehi to phark hota hai…

 

कुछ लोग हमारे सामने होशियारी मार रहे थे,
शायद उनको मालूम नहीं था ,
इन जैसी चीज़ो के हम कप्तान रह चुके है |
kuchh log hamaare saamane hoshiyaaree maar rahe the, shaayad unako maaloom nahin tha, in jaisee cheezo ke ham kaptaan rah chuke hai…

DADA GIRI SHAYARI